Home » Posts tagged with ""

झाड़ै रहो कलक्टरगंज-काहे रिसिया गे बाबूजी के मुन्ना?

पंकज शुक्ल झाड़ै रहो कलक्टरगंज काहे रिसिया गे बाबूजी के मुन्ना? पंकज शुक्ल अपने इलाहाबाद क मुन्ना बुढ़ा तो गे हे हैं, आजु काल्हि पिच्चरौ याक ये ही नाम केरि कई रहे। पिच्चर क्यार नांव है– बूढ़ा। वइसे हमारा परेंदे वाले मामा (जहां कौन्यो... 
Tags:
© 2010 BiharDays    
   · RSS · ·